तकनीकी विश्लेषण के पितामाह

कौन थे चार्ल्स एच डॉव? और क्या थे स्टॉक निवेश की नीव स्तपीठ करने वाले 6 सिद्धांत?

Transcript

तकनीकी विश्लेषण के पितामाह चार्ल्स एच. डॉव, जिनके नाम पर "डॉव जोन्स" वॉल स्ट्रीट इंडेक्स का नाम है, कई सिद्धांतों के संस्थापक हैं, और तकनीकी विश्लेषण के सिद्धांतों में उनका योगदान अपार है। डॉव थ्योरी बताती है कि बाजार तीन अलग-अलग चरणों से बने होते हैं, जो स्वयं को दोहराते हैं। ये एक्यूमुलेशन फेज, मार्क अप फेज और डिस्ट्रिब्यूशन फेज हैं। एक्यूमुलेशन फेज आमतौर पर बाजार में तेज बिक्री के बाद शुरू होता है।
मार्क अप चरण के दौरान, शेयर की कीमत जल्दी और तेजी से बढ़ती है।
डिस्ट्रीब्यूशन चरण में, जब भी कीमतें अधिक जाने का प्रयास करती हैं, तो स्मार्ट मनी अपनी होल्डिंग कम कर देते हैं। डॉव सिद्धांत के 6 घटक हैं:
1. बाजार सब जानता है
2. बाजार के रुझान के तीन प्राथमिक प्रकार हैं
3.प्राथमिक रुझानों में तीन चरण होते हैं
4. संकेत एक दूसरे की पुष्टि करना चाहिए
5. वॉल्यूम को ट्रेंड की पुष्टि करनी चाहिए
6. ट्रेंड्स तब तक जारी रहते हैं जब तक एक स्पष्ट रिवर्सल ना हो

अगर आप तकनीकी विश्लेषण के इतिहास में वापस जाते हैं, तो स्टॉक निवेश की इस शाखा की नींव का पता चार्ल्स डॉव और उनकी लेखनी से लगाया जा सकता है।I एंजेल ब्रोकिंग द्वारा स्मार्ट मनी पर चार्ल्स डॉव और प्रभावी निवेश निर्णयों के लिए उनके सिद्धांत के बारे में अधिक समझें, और तकनीकी विश्लेषण का उपयोग करना सीखें।

Get Information Mindfulness!

Catch-up With Market

News in 60 Seconds.


The perfect starter to begin and stay tuned with your learning journey anytime and anywhere.

Visit Website
logo logo

Get Information Mindfulness!

Catch-up With Market

News in 60 Seconds.

logo

The perfect starter to begin and stay tuned with your learning journey anytime and anywhere.

logo
logo

के साथ व्यापार करने के लिए तैयार?

logo
Open an account