Module for निवेशक

आईपीओ, दिवाला, विलय और विभाजन

Open Free* Demat Account | Enjoy Free Equity Delivery Trade For Lifetime

*T&C Apply

कंपनी सदा के लिए नहीं रहती हैं

01:07 Mins Read

कंपनी का जीवन कैसा है? यह एक दिलचस्प सवाल है, और आपको इस वीडियो में इसका जवाब मिलेगा।

Transcript

कंपनियाँ सदा के लिए नहीं रहती तो, आखिर में उनका होता क्या है? कभी-कभी, दो या उससे अधिक कंपनियाँ जो समान व्यवसाय करती हैं वो मिलकर एक नई कंपनी बन जाती हैं इसे मर्जर या विलय कहते हैं। कुछ मामलों में, एक बड़ी कंपनी, छोटी कंपनी को खरीद लेती हैं। इसे अधिग्रहण कहते हैं। दिवालिया होने के चलते कोई कंपनी बंद भी हो सकती है। दिवालिया होने का मतलब है कि कंपनी के एसेट कंपनी का ऋण चुकाने के लिए पर्याप्त नहीं हैं। जब किसी कंपनी को दिवालिया घोषित किया जाता है तो उसके शेयर अपना मूल्य खो देते हैं। और उन्हे स्टॉक एक्सचेंज से डीलिस्ट कर दिया जाता है। अगर आप किसी ऐसी कंपनी के शेयरधारक हैं जिसे दिवालिया घोषित कर दिया गया हो तो आपके निवेश का क्या होता है? इसके बारे में जानने के लिए स्मार्ट मनी का अगला अध्याय पढ़ें।

Get Information Mindfulness!

Catch-up With Market

News in 60 Seconds.


The perfect starter to begin and stay tuned with your learning journey anytime and anywhere.

Visit Website
logo logo

Get Information Mindfulness!

Catch-up With Market

News in 60 Seconds.

logo

The perfect starter to begin and stay tuned with your learning journey anytime and anywhere.

logo
logo

के साथ व्यापार करने के लिए तैयार?

logo